दया तेरी यो ही रखना

दया तेरी यो ही रखना

(तर्ज – आये हो मेरी जिन्दगी में…. फि. राजा हिन्दुस्तानी)

आये हैं अंजनी लाला, हम आज  तेरे दर पे….

दया तेरी यों ही रखना, (आऽऽ………..)

में आश है बस तुम पे।। टेर।। आये हैं….

सागर के पार जाके, पर्वत उठाके लाया-2

अंजनी मां का जाया, सबके ही मन को भाया।

कब आओगे ओ बाला, मेरे संकटों को हरने-2। दया…

राम को है सबसे प्यारा, बजरंग बली हमारा-2

जब-जब भी तुमको बाला,  है भक्तांे न पुकारा।

आये हैं तेरे बाला भक्तों की विनती सुनने-2।। दया….

बजरंग बल्लधरी, सुध मेरी क्यों बिसारी-2

सारे जगत से हारी, आई शरण तिहारी।

मेरी लाज तू ही रखना, हम तेरी ही शरण मे-2। दया…

बाला तेरा ही सहारा, सूझे ना किनारा-2

जब-जब हैं छाये संकट, है तूने ही उबारा।

होती है आश पूरी, ओ बाला तेरे दर पे-2।। दया…